राजस्थान में नगर सभ्यता

gk book की पिछली पोस्ट में हमने आप को राजस्थान में रैढ़ सभ्यता के बारे बताया था। इस पोस्ट में हम आप को राजस्थान में नगर सभ्यता ( खेड़ा सभ्यता ) के बारे में बतायगे जो राजस्थान के टोंक जिले में स्थित है।

नगर सभ्यताखेड़ा सभ्यता

नगर सभ्यता जो नगर नामक पुरातात्विक स्थल टाेंक जिले में उणियारा कस्बे के पास स्थित है। इसे कर्कोट नगर भी कहा जाता है। इसका प्राचीन नाम ‘मालव नगर’ था।

  • नगर सभ्यता पर उत्खनन कार्य 1942-43 में श्रीकृष्ण देव द्वारा किया गया।
  • नगर सभ्यता से बड़ी संख्या में मालव सिक्के तथा आहत मुद्राएं प्राप्त हुई है।
  • नगर सभ्यता से प्राप्त मृदभांडो के अधिकतर अवशेषोें का रंग लाल है।
  • नगर सभ्यता में उत्खनन से गुप्तोत्तर काल की स्लेटी पत्थर से निर्मित महिषासुरमर्दिनी की मूर्ति प्राप्त हुई है।
  • इसके अतिरिक्त यहाँ से मोदक रूप में गणेश का अंकन, फणधारी नाग का अंकन, कमल धारण किए लक्ष्मी की खड़ी प्रतिमा प्राप्त हुई है।
  • वर्तमान में नगर सभ्यता को ‘खेड़ा सभ्यता’ के नाम से जाना जाता है।
  • खेड़ा सभ्यता के उत्खनन से 6000 मालव सिक्के मिले हैं।
  • नगर सभ्यता से लाल रंग के मृद‌्भांड एवं अनाज भरने के कलात्मक मटकों के अवशेष प्राप्त हुए है।

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!