Laser Printer in Hindi

Laser Printer in Hindiलेजर प्रिंटर

लेजर प्रिंटर नॉन इम्पैक्ट पेज प्रिंटर हैं। लेजर प्रिंटर का उपयोग कम्प्युटर सिस्टम में 1970 के दशक से हो रहा हैं। पहले ये मेनफ्रेम कम्प्युटर में प्रयोग किये जाते थे। 1980 के दशक में लेजर प्रिंटर का मूल्य लगभग 3000 डॉलर था और यह माइक्रोकम्प्युटर के लिये उपलब्ध था। ये प्रिंटर आजकल अधिक लोकप्रिय हैं, क्योंकि ये अपेक्षाकृत अधिक तेज और उच्च क्वालिटी में टैक्स्ट और ग्राफिक्स छापने में सक्षम हैं।

What is Laser Printer in Hindi

लेजर प्रिंटर पृष्ठ पर आकृति (Images) को जेरोग्राफी (Xerography) तकनीक से छापता हैं। जेरोग्राफी (Xerography) तकनीक का विकास जेरॉक्स (Xerox) मशीन (फोटोकॉपीयर मशीन) के लिये हुआ था। जेरोग्राफी एक फोटोग्राफी जैसी तकनीक है, जिसमें फिल्म, एक आवेशित पदार्थ का लेपन युक्त ड्रम (Drum) होती हैं यह ड्रम फोटो-संवेदित होता हैं। इसके द्वारा कागज पर आउटपुट को छापा जाता हैं। इस ड्रम पर आउटपुट इस प्रकार आता हैं।

Laser Printer kya hai

कम्प्युटर से प्राप्त आउटपुट, लेजर-स्त्रोत से लेजर किरण के रूप में उत्सर्जित होता हैं। यह किरण लैन्सों से एक घूमते हुए बहुभुजाकार (Polygon shaped) दर्पण पर फोकस की जाती है, जहाँ से परावर्तित होकर आउटपुट की यह लेजर-किरण लैन्सों द्वारा पुनः एक अन्य दर्पण (b) पर फोकस होती हुई परावर्तित होकर फोटो-संवेदित ड्रम पर गिरती हैं।

घूमने वाला बहुभुजाकार दर्पण (a) आउटपुट की लेजर किरण को सम्पूर्ण फोटो-संवेदित ड्रम पर छपने वाली लाइनों के रूप में डालता हैं। जब यह ड्रम घूमता हैं तो आवेशित स्थानों पर टोनर (Toner-एक विशेष स्याही का पाउडर) चिपका लेता हैं। इसके बाद यह टोनर कागज पर स्थानान्तरित हो जाता हैं जिससे आउटपुट कागज पर छप जाता हैं। यह आउटपुट अस्थाई होता है, टोनर को स्थाई रूप से कागज पर सील (Seal) करने के लिए इसे गर्म रोलर से गुजारा जाता हैं।

अधिकतर लेजर प्रिंटर्स में एक अतिरिक्त माइक्रोप्रोसेसर (Microprocessor), रैम (RAM) और रोम (ROM) होते हैं। रोम (ROM) में फॉन्ट (Font) और पृष्ठ को व्यवस्थित करने के प्रोग्राम संग्रहित रहते हैं। लेजर प्रिंटर सर्वश्रेष्ठ आउटपुट छापता हैं। प्रायः यह 300 Dpi से लेकर 600 तक या उससे भी अधिक रेजोल्यूशन की छपाई करता हैं।

रंगीन लेजर प्रिंटर उच्च क्वालिटी का रंगीन आउटपुट देता हैं। इसमें विशेष टोनर होता हैं, जिसमें विविध रंगों के कण उपलब्ध रहते हैं।

लेजर प्रिंटर महँगें होते हैं, लेकिन इनकी छापने की गति उच्च होती हैं। प्लास्टिक की शीट या अन्य किसी शीट पर भी यह प्रिंटर आउटपुट को छाप सकते हैं। इनका उपयोग छपाई की ऑफसेट मशीन के मास्टर (Master) कॉपी छापने में होता हैं जिनसे आउटपुट की प्रतिलिपियाँ अधिक संख्या में छापी जाती हैं।

2 24

विशेषताएँ – Laser Printer Advantages in Hindi

  1. इनकी Printing Speed सबसे अधिक होती हैं।
  2. इनकी Printing Quality सबसे अच्छी होती हैं।
  3. ज्यादातर Designing में काम आता हैं।
  4. इनकी Printing Cost ज्यादा होती हैं।
  5. Black & White तथा Colour दोनों ही प्रकार की प्रीन्टिंग की जा सकती हैं।
  6. इनका रख-रखाव कठिन हैं।
Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!